Breaking

Sunday, 9 December 2018

महिला आरक्षण कार्ड खेलने की तैयारी में राहुल,

महिला आरक्षण कार्ड खेलने की तैयारी में राहुल, पंजाब समेत कांग्रेस शासित राज्यों को लिखा पत्र

पांच राज्यों के विधानसभा चुनावों में अपनी पार्टी की सफलता से उत्साहित कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अब लोकसभा चुनावों को ध्यान में रखकर एक नई रणनीति अपनाने की तैयारी की है। लोकसभा चुनावों में महिला मतदाताओं को आकर्षित करने के लिए राहुल ने महिला आरक्षण बिल का मुद्दा गरमाने का निर्णय लिया है। 

कांग्रेस अध्यक्ष ने पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह समेत अपने दल की सरकार वाले तीनों राज्यों की सरकारों को अपनी-अपनी विधानसभा में इस बिल के समर्थन में प्रस्ताव पारित करते हुए केंद्र सरकार को भेजने के लिए निर्देश दिए हैं। 

कांग्रेस अध्यक्ष ने तीनों राज्यों को लिखे पत्र में कहा है कि केंद्र सरकार से महिला आरक्षण बिल पारित कराने की अपील वाला प्रस्ताव अपनी-अपनी विधानसभा के अगले सत्र में पारित कराया जाए। पत्र में कहा गया है कि यूपीए शासन के दौरान 2010 में राज्यसभा ने इस संबंध में 108वां संविधान संशोधन बिल पारित कर दिया था, लेकिन यह 2014 में 15वीं लोकसभा के भंग होते ही खत्म हो गया था।
white; color: #333333; font-family: "noto sans devanagari" , "calibri"; font-size: 18px;">
राहुल ने पत्र में लिखा है कि कांग्रेस और अन्य दलों ने प्रधानमंत्री को महिला आरक्षण बिल पारित कराने के लिए समर्थन देने का आश्वासन दिया है। बिल के विरोधी महिलाओं की नेतृत्व और बदलाव लाने की क्षमता पर शक जता रहे हैं, लेकिन 73वें व 74वें संविधान संशोधन ऐसे लोगों को गलत साबित कर चुका है। राहुल ने पत्र में लिखा है कि महिला कांग्रेस अध्यक्ष सुष्मिता देव भी 23 नवंबर को इस बारे में अपने दल की सत्ता वाले सभी राज्यों की सरकाराें को पत्र लिख चुकी हैं।

No comments:

Post a Comment