Breaking

Tuesday, 11 December 2018

पुलिस भर्ती में ऐसे हाल: किसी को आई उल्टी तो किसी की सांस उखड़ी

पुलिस भर्ती में ऐसे हाल: किसी की सांस उखड़ी तो किसी को आई उल्टी

बरेली, जेएनएन: पुलिस में भर्ती के लिए आधी-अधूरी तैयारी के साथ मैदान में दौड़ने उतरीं महिला अभ्यर्थियों के कदम पस्त हो जा रहे हैं। मंगलवार को 446 लड़कियां दौड़ीं लेकिन इनमें से महज 134 लड़कियां ही पास हो सकीं। 312 फेल हो गई।

पुलिस भर्ती दौड़ में मंगलवार को कुल 1024 अभ्यर्थी शामिल हुए। अधिकारी 12 सौ अभ्यर्थियों की दौड़ कराने के मूड में थे लेकिन ये हो न सका। 1024 में कुल 549 अभ्यर्थी पास हुए जबकि 475 फेल हो गए। दौड़ के दौरान सबसे ज्यादा दिक्कत लड़कियों के साथ आई। उन्हें 400 मीटर के छह चक्कर 14 मिनट में लगाने थे। आखिरी राउंड में लड़कियां लड़खड़ाकर गिरने लगीं। मंगलवार को भी करीब 40-50 लड़कियां बेहोश हुई। धूल से भी बिगड़ी हालत

दौड़ के आखिरी राउंड के बाद जहां लड़कियों को बैठाया जा रहा था। वहां एक साथ सारी लड़कियों के इकट्ठा हो जाने से धूल उठ रही थी। गहरी सांस लेने के कारण धूल सांसों में अंदर चली गई। जिससे लड़कियों को उल्टी व खांसी आने लगी। नाजरा को लगानी पड़ी ऑक्सीजन

बिजनौर की नाजरा खान दौड़ के दौरान बेहोश हो गई। उसे स्ट्रेचर से एंबुलेंस में ले जाया गया। तबीयत खराब होने के कारण यहां नाजरा को ऑक्सीजन लगानी पड़ी। करीब एक घंटे तक ऑक्सीजन लगी रही इसके बाद धीरे-धीरे नाजरा की तबीयत में सुधार हुआ। दौड़ की तैयारी के लिए नहीं मिला समय


दौड़ में शामिल होने आई लड़कियों ने बताया कि पिछले सप्ताह ही रिजल्ट आया और इसके बाद एकाएक उन्हें दौड़ के लिए बुला लिया गया। 2.4 किलोमीटर महज 14 मिनट में दौड़ने के लिए प्रैक्टिस की जरूरत है। लड़कों को तो और भी ज्यादा प्रैक्टिस की जरूरत थी। उन्हें तो 4.8 किलोमीटर दौड़ महज 25 मिनट में पूरी करनी है। यही कारण है कि लड़के-लड़कियां बेहोश होकर मैदान में गिर रहे हैं।


No comments:

Post a Comment